मकान मालकिन दिलवाई कुंवारी चूत

हैल्लो दोस्तों, Antarvasna मेरा नाम आर्यन है और में Kamukta राजस्थान से हूँ। मैंने अपनी मकान मालकिन किरण को चोदा। अब में किरण को रोजाना चोदने लगा, लेकिन मेरा मन उससे नहीं भरता था। अब मेरी नज़र पूजा पर थी, जो मेरे रूम के बगल वाले मकान में ही रहती थी, वो हमारी मकान मालकिन के पास कोचिंग पढने आती थी और कभी-कभी रात को वो मेरी मकान मालकिन के पास ही सो जाती थी, क्योंकि मेरी मकान मालकिन किरण अकेली रहती थी। उसका एक बेटा था और जो पढाई के कारण बाहर रहता था और में उसके मकान में किराये पर रहता था तो पूजा उसके साथ ही उसके कमरे में सो जाती थी और मुझे अब ये भी पता था कि पूजा किरण के साथ लेस्बियन करती है, इसलिए किरण पूजा को अपने घर सोने के लिए बुला लेती थी।

अब जब में किरण को चोदता था तो उसके कारण वो पूजा को अपने पास नहीं सुला पाती थी। एक दिन रविवार को जब में सोकर उठा तो मैंने देखा कि किरण बाथरूम में नहा रही है। फिर में सीधा बाथरूम में गया और उसे वहीं पलट दिया, अब वो बिल्कुल नंगी नहा रही थी। अब में उसको पकड़कर उसके बूब्स से खेलने लगा और अब वो धीरे धीरे गर्म होने लगी थी। अब में उसको रगड़ने लगा और उसकी चूत में उंगली डालकर अंदर बाहर करने लगा और फिर उसको बाथरूम में झुकाकर अपना लंड पीछे से डालकर उसे चोदने लगा और फिर मैंने अपना पानी उसकी चूत में ही छोड़ दिया। फिर में नहाकर बाहर आ गया और किरण भी बाहर आ गई।

अब में और किरण बिल्कुल खुल चुके थे, अब हम एक दूसरे के सामने नंगे ही घूम लेते थे और उस दिन रविवार होने के कारण में भी तैयार होकर सिर्फ़ पजामा और एक टी-शर्ट पहनकर उसके रूम में चला गया। मैंने देखा कि अब वो तैयार हो रही है। फिर मैंने पूछा कि किरण कहाँ जा रही हो? तो वो बोली कि रविवार है तो सामान लेने मार्केट जाना है, तो मैंने पूछा कि क्या लाओगी? फिर वो बोली कि घर का समान और कुछ कपड़े भी लाने है। फिर मैंने पूछा कि तुम्हारे साथ और कौन जा रहा है? तो वो बोली कि पूजा की मम्मी की जा रही है। फिर में समझ गया कि अब ये तो बाज़ार से 2-3 घंटे तक नहीं आने वाली है। फिर मैंने बोला कि किरण मेरा एक काम कर दो, तो वो बोली कि क्या? फिर मैंने बोला कि पूजा को यहाँ पढने के लिए छोड़ जाओ, में उसकी पढाई करा दूँगा, तो वो बोली नहीं तुम कुछ और ही पढाई करोंगे।

फिर में बोला ठीक है तो में तेरी और पूजा की लेस्बियन वाली बात उसके मम्मी-पापा को बता दूंगा, तो वो एकदम से डर गई और बोली कि आर्यन प्लीज में बदनाम हो जाउंगी और उसकी मम्मी का मेरे ऊपर से विश्वास टूट जायेगा।

फिर किरण बोली कि आर्यन में उसकी मम्मी के साथ मार्केट जा रही हूँ तो उसे पढ़ायेगा कौन? फिर में बोला में उसे पढ़ा दूँगा, तो वो बोली कि शायद उसकी मम्मी ना भेजे, तो में बोला कि तुम उसे पढने के लिए बुलाओ तो सही, क्योंकि कुछ दिन के बाद उसके एग्जॉम है और तुम कौनसा उसे पढ़ाती हो? तुम तो उससे अपनी चूत की गर्मी ही शांत करती हो। फिर वो बोली ठीक है में कोशिश करती हूँ। फिर वो पूजा के घर गई और उसके कुछ देर के बाद किरण वापस आई। फिर में बोला कि कहाँ है? तो किरण ने बोला कि उसकी मम्मी ने बोला कि वो 10 बजे के बाद बाज़ार जायेगी। फिर मैंने टाईम देखा तो 9:30 बज रहे थे। फिर मैंने पूछा कि पूजा आ रही है या नहीं? तो वो बोली कि आ रही है, में कुछ देर उसे पढ़ा देती हूँ। फिर तुम उसको पढ़ा देना।

अब मेरी तो निकल पड़ी, अब में खड़ा हुआ और किरण को गले लगाकर उसके लिप पर किस करने लगा और उसकी चूची को दबाने लगा। फिर वो और में अलग हुए और फिर मैंने अपने रूम में आकर खाना तैयार किया और किरण को खाना खा लेने की बोलकर बाहर चला गया। फिर मैंने वापस आकर जल्दी से खाना खाया और अपनी बुक लेकर पढने बैठ गया। फिर कुछ देर बाद पूजा आई और किरण उसे पढ़ाने लगी। फिर लगभग 11 बजे पूजा की मम्मी आई तो मैंने उससे नमस्ते किया और वो किरण को बाज़ार चलने के लिए बोली, तो किरण बोली कि चलो। फिर पूजा की मम्मी ने पूजा को घर जाने के लिए बोला, तो किरण बोली कि इसे तो पढने दो और ये यहाँ रहकर पढ़ लेगी, तो पूजा की मम्मी बोली कि इसे यहाँ कौन पढ़ायेगा? फिर किरण बोली कि आर्यन है ना, वो पढ़ा देगा। फिर किरण ने मुझे अपने रूम में बुलाया और कहा कि आर्यन में और पूजा की मम्मी बाज़ार जा रहे है, तुम पूजा को गणित पढ़ा देना और कुछ प्रोब्लम हो तो उसकी मदद कर देना। फिर में बोला ठीक है, ये यही बैठकर पढाई कर लेगी और कुछ प्रोब्लम होगी तो वो मुझसे मदद ले लेगी। फिर किरण और पूजा की मम्मी बाज़ार चली गई। फिर कुछ देर तक में इंतजार करता रहा कि कहीं वो वापस ना जाए। फिर मैंने ये पता करने के लिए किरण के पास कॉल किया और पूछा कि तुम कहाँ हो? तो वो बोली कि हम मार्केट में है। फिर में बोला ठीक है कितनी देर में आओगी? तो वो बोली लगभग 1 बजे तक।

फिर मैंने बोला ओके, तो वो बोली कोई काम था। फिर में बोला मेरा भी कुछ सामान लाना है, तो वो बोली कि ठीक है, तुम मुझे मैसेज कर दो। फिर मैंने एक दो सामान की लिस्ट उसे मैसेज कर दी। अब मैंने टाईम देखा तो 11 बज रहे थे। फिर में खड़ा हुआ और अपना रूम बंद किया और घर के मैन दरवाजे को अंदर से लॉक किया और किरण के रूम में चला गया। फिर मैंने वहाँ देखा कि पूजा पढाई कर रही थी। फिर में अन्दर गया तो पूजा बोली कि आर्यन एक गणित की प्रोब्लम है तुम सॉल्व कर दो। फिर में बोला कि पूजा आज तो में तेरी सारी प्रोब्लम सॉल्व कर दूँगा, तो वो बोली कि सारी मतलब, तो में बोला कुछ नहीं, तुम नहीं समझोगी। वो उस समय एक लाल टॉप और काले कलर का पजामा पहने थी। फिर में बोला कि क्या प्रोब्लम है? फिर उसने मुझे उसकी प्रोब्लम बताई, तो मैंने उसकी प्रोब्लम को सॉल्व करके दे दिया। फिर में उसके 32 साईज के बूब्स को देखने लगा और वो भी मुझे चोर नज़रों से देख रही थी।

फिर कुछ देर के बाद वो नीचे झुकी तो मुझे उसके लाल टॉप के अंदर पिंक ब्रा में कैद छोटे-छोटे बूब्स के दर्शन हो गये। अब मेरा लंड टाईट होने लगा था और मुझे उसका उभार साफ-साफ़ दिख रहा था। में खड़ा हुआ और पूजा के पीछे जाकर बैठ गया और पीछे से उसके बूब्स को पकड़कर दबा दिया तो वो एकदम से चौंक पड़ी और मुझसे छूटने की कोशिश करने लगी, तो में और ज़ोर-ज़ोर से उसके बूब्स को रगड़ने लगा। फिर वो बोली कि आर्यन प्लीज मुझे छोड़ दो तो मैंने उसे छोड़ दिया और वो रोने लगी और मुझसे कहने लगी।

पूजा – आर्यन तुम मेरे साथ ये क्या कर रहे हो?

आर्यन – पूजा तुम मुझे अच्छी लगती हो।

पूजा – नहीं, में किरण आंटी को और मम्मी से तुम्हारी शिकायत करुँगी।

आर्यन – कर दे, जिससे क्या होगा? में भी तेरी और किरण आंटी की बात तेरी मम्मी को बता दूँगा।

पूजा – कौन सी बात, अब वो चौंक सी गई और मुझसे पूछने लगी।

आर्यन – तुम और किरण रात को क्या करती हो?

पूजा – कुछ नहीं, में और आंटी तो कुछ नहीं करते है।

आर्यन – फिर तुम और किरण रात को नंगी क्यों सोती हो? अब पूजा डर गई थी।

पूजा – वो तो किरण आंटी मेरे साथ… कहते कहते पूजा चुप हो गई।

आर्यन – कोई बात नहीं, मेरे पास तेरी और किरण की क्लिप है, तुम्हें देखनी है क्या? और मैंने अपना मोबाईल निकाला और पूजा को दिखाने लगा तो पूजा एकदम से सब देखकर चौंक सी गई, जैसे उसे कोई गहरा झटका लगा हो।

पूजा – आर्यन प्लीज, ये किसी को मत दिखाना नहीं तो में बर्बाद हो जाउंगी और वो रोने लगी।

आर्यन – पूजा ठीक है में किसी को नहीं दिखाऊंगा, लेकिन तुम्हें मेरे साथ भी वही करना पड़ेगा, जो तुम किरण के साथ करती हो।

पूजा – ठीक है आर्यन, लेकिन तुम किसी और को कुछ नहीं बताओगे और किरण आंटी को भी नहीं बताओगे।

आर्यन – पूजा में तुम्हें पसंद करता हूँ और तुम्हें मुझ पर विश्वास है तो ही में करूँगा, नहीं तो में अब तक तेरी मम्मी को तेरी और किरण की बात बता देता।

पूजा – आर्यन प्लीज, ये किसी को मत दिखाना नहीं तो मम्मी मुझे मार डालेगी।

आर्यन – ओके, में नहीं दिखाऊंगा, लेकिन पूजा मुझे मेरा जवाब चाहिए।

पूजा – आर्यन एक बात बोलूँ।

आर्यन – बोलो पूजा।

पूजा – आर्यन में भी तुम्हें पसंद करती हूँ, लेकिन मुझे कहने में डर लगता है कि कहीं तुम बुरा ना मान जाओं।

आर्यन – पूजा आई लव यू।

पूजा – लव यू टू आर्यन।

आर्यन – फिर मैंने पूजा का हाथ पकड़कर उसे अपने ऊपर खींच लिया और अपने लिप उसके लिप पर रख दिए।

पूजा – आर्यन तुम प्लीज ये बात किसी को नहीं बताओंगे और किसी को ये क्लिप भी नहीं दिखाओगे, यहाँ तक कि किरण आंटी को भी नहीं दिखाओगे।

आर्यन – हाँ मेरी जान और में पूजा को किस करने लगा।

उसके बाद में पूजा के लिप को किस करने लगा तो वो बोली कि आर्यन प्लीज रूम का दरवाजा तो बंद कर दो। फिर में बोला कि जानेमन मैन दरवाजा तो अंदर से लॉक है। फिर वो बोली कि कोई बात नहीं तुम ये भी लॉक कर दो। फिर में खड़ा हुआ और रूम का दरवाजा अन्दर से बंद कर दिया और उसे लेकर बेड पर लेट गया। अब में और पूजा एक दूसरे को किस करने लगे और उसके बाद में पूजा के छोटे छोटे बूब्स को उसके टॉप के ऊपर से ही दबाने लगा और उसके होंठो को लगातार चूसने लगा। अब उसकी साँसे गर्म हो रही थी और वो भी मेरा साथ दे रही थी। फिर कुछ देर तक किस करने के बाद मैंने उसके टॉप के अंदर अपना हाथ डाल दिया और उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसके छोटे-छोटे बूब्स को रगड़ने लगा। अब पूजा भी गर्म हो रही थी और मेरा साथ दे रही थी। उसके बाद में पूजा को सीधा लेटाकर उसके ऊपर आ गया और पूजा को किस करने लगा। अब में उसके लिप पर और उसके गालों पर लगातार किस कर था। उसके बाद में उसकी गर्दन पर किस करने लगा और उसके बूब्स को भी दबा रहा था। फिर में पूजा के बगल में लेट गया और पूजा मेरे ऊपर आ गई और मुझे किस करने लगी।

फिर मैंने पूजा के टॉप को नीचे से पकड़ा और ऊपर करने लगा तो वो मुझे मना करने लगी, आर्यन प्लीज मम्मी और किरण आंटी कभी भी बाज़ार से आ सकती है। फिर में बोला कि जानेमन वो 1 बजे से पहले नहीं आयेगी और अभी अपने पास 2 घंटे बाकी है। फिर वो बोली कि तुम्हें कैसे पता? तो में बोला कि किरण ने मेरे कहने पर ही तुम्हें यहाँ पढने के लिए बुलाया है और उसे ये भी पता है कि पूजा आज कौन सी पढाई करने वाली है? तो पूजा एकदम से चौंक गई। फिर वो बोली कि क्या किरण आंटी को सब पता है? कि में और तुम एक दूसरे के साथ क्या करेगें? तो में बोला कि उसे ये तो नहीं पता, लेकिन उसे इतना पता है कि आज आर्यन और पूजा दोनों बस प्यार की पढाई करेगें। फिर वो बोली कि आर्यन तुम सही कह रहे हो, तो में बोला हाँ। फिर वो थोड़ा सा नाराज़ हो गई और में बोला कि किरण के कारण ही तू और में एक साथ है और उसने ही तेरी और मुझे मिलवाने की सारी सेटिंग की है, लेकिन उसे ये नहीं पता कि में तुम्हें चोदने वाला हूँ। फिर वो बोली कि आर्यन प्लीज ये किरण आंटी को मत बताना, तो में बोला ठीक है।

फिर मैंने पूजा का लाल टॉप उतार दिया, उसने नीचे पिंक कलर की ब्रा पहनी थी। पिंक ब्रा में साली बहुत ही सेक्सी लग रही थी। फिर में उसे किस करने लगा और उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसके बूब्स को किस करने लगा और अपना एक हाथ नीचे ले जाकर उसके लोवर के ऊपर से ही उसकी दोनों टांगो के बीच में रखकर उसकी चूत को सहलाने लगा। अब वो और गर्म होने लगी थी और अब में उसके पेट पर किस करने लगा और उसकी नाभि पर भी किस करने लगा। अब वो लगातार गर्म हो रही और उसकी साँसे मुझे भी गर्म कर रही थी और वो आहह आआआआआआ हुउऊउउ की आवाजे कर रही थी।

उसके बाद मैंने पूजा के लोवर को पकड़ा और उसके दोनों पैरों को सीधा करके उसका लोवर नीचे कर दिया और उसके लोवर को पैरों से निकालकर उसे नीचे से पूरी नंगी कर दिया। अब पूजा मेरे सामने सिर्फ़ पिंक ब्रा और पिंक पेंटी पहने लेटी हुई थी और उसका एक हाथ उसकी चूची के ऊपर था और एक हाथ से उसने अपनी चूत को ढक रखा था। फिर में पूजा की गोरी-गोरी जांघो पर किस करने लगा। फिर में धीरे-धीरे किस करता-करता उसकी पिंक पेंटी के ऊपर से ही उसकी चूत को सहलाने लगा। अब उसकी चूत से पानी निकल रहा था, जिससे उसकी पेंटी गीली हो रही थी। अब में उसकी पेंटी के ऊपर से उसकी चूत के ऊपर किस करने लगा, अब पूजा के मुँह से आआआआहह आआआआअ म्‍म्म्ममममम हहह्ह की आवाजे आ रही थी। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर में उसके ऊपर आया और उसको उल्टा पेट के बल लेटाकर उसकी ब्रा को खोल दिया और उसकी कमर पर किस करने लगा। फिर उसके बाद मैंने उसको सीधा किया और अब उसके 32 साईज़ के गोरे-गोरे बूब्स मेरे सामने थे और उसके गुलाबी निप्पल वाले गोरे गोरे बूब्स बहुत मस्त थे। अब में उनको किस करने लगा तो अब पूजा की आँखे शर्म के मारे बंद थी और वो अपने हाथ से अपनी चूची को ढकने का प्रयास कर रही थी, लेकिन में लगातार उसके बूब्स को चूस रहा था, कभी राईट बूब्स को तो कभी लेफ्ट बूब्स को चूस रहा था। फिर में एक बूब्स को मुँह में लेकर उसके निप्पल को चूसने लगा और अपना एक हाथ उसकी पेंटी में डालकर उसकी कुंवारी चूत से खेलने लगा। अब उसकी चूत गीली होने के कारण मेरी एक उंगली उसकी चूत के अंदर चली गई, तो पूजा एकदम से कहराई आआआआआआअ आआआहह हमम्म्म।

फिर में बोला क्या हुआ? फिर वो बोली कि नीचे कुछ हो रहा है तो में बोला नीचे कहाँ? तो वो बोली नीचे, लेकिन में चाहता था कि पूजा नाम लेकर बोले तो फिर मैंने पूजा की चूत में दूसरी उंगली भी डाल दी और इस बार पूजा को दर्द हुआ तो वो बोली आह मम्मा। फिर में बोला क्या हुआ? तो वो बोली आर्यन प्लीज नीचे दर्द हो रहा है, तो में बोला नीचे कहाँ? फिर वो बोली जहाँ आप उंगली डाल रहे हो, तो में बोला में कहाँ उंगली डाल रहा हूँ? फिर वो धीरे से बोली चूत में। फिर में बोला पूजा खुलकर बोलो, तुम्हें भी मजा आयेगा और मुझे भी मजा आयेगा तो वो शरमा गई और अपनी आँखे बंद कर ली। अब तक मैंने उसकी 32 की साईज़ की चूची चूस-चूसकर लाल कर दी थी। अब उसके हाथ मेरे सर पर मेरे बालों को सहला रहे थे और वो लगातार सिसकी ले रही थी। फिर में पूजा के ऊपर से उठा और अपने कपड़े खोलने लगा तो फिर पूजा बोली कि आर्यन प्लीज मुझे ऐसे मत छोड़ो। फिर में बोला जानेमन एक बार अपनी आँखों को खोलकर तो देखो। अब में अब तक अपने सारे कपड़े उतार चुका था और मेरा लंड पूरी तरह से खड़ा था और अंडरवियर से बाहर आने को तड़प रहा था और अब में सिर्फ़ अंडरवियर में था। फिर में पूजा के बगल में लेट गया। अब पूजा सिर्फ़ पिंक पेंटी में और में सिर्फ़ अंडरवियर में था।

अब हम दोनों एक दूसरे को किस कर रहे थे। फिर में नीचे से एक हाथ पूजा की पेंटी में डालकर उसकी चूत से खेलने लगा और अब पूजा के मुँह से आआआहह एयाया हह अम्म की आवाज़ आ रही थी। फिर मैंने पूजा का एक हाथ पकड़कर अपने लंड के ऊपर रख दिया तो पूजा ने एकदम से अपना हाथ हटा लिया और बोली कि आर्यन ये तो बहुत गर्म है। फिर में बोला कि पूजा इसे अपने हाथ में लेकर खेलो ना, तो उसने डरते-डरते अपना एक हाथ मेरे लंड के ऊपर रख दिया और उसे पकड़कर आगे पीछे करने लगी। फिर मैंने पूजा को सीधा लेटाया और उसके ऊपर लेट गया और उसकी चूत के ऊपर अपने लंड को रगड़ने लगा। फिर में उसके पैरों से हटा और उसकी पेंटी को साईड में करके उसकी चूत पर किस करने लगा, क्या चूत थी पूजा की? एक दम गुलाबी और वो भी बिना बालों की।

फिर मैंने पूजा की पेंटी निकाल दी तो उसने एक हाथ अपनी चूत के ऊपर रख दिया और शरमा गई। फिर मैंने उसका हाथ हटा दिया और उसकी चूत को किस करने लगा और चाटने लगा। अब वो मेरा सर अपनी चूत पर दबाने लगी और उसके मुँह से आआआआअ आआआआआआआहह आआमम्मम की आवाजे आने लगी। फिर में उठा और मैंने अपना अंडरवियर निकाल दिया और फिर से उसकी चूत को चाटने लगा। अब उसकी आँखे बंद थी। फिर वो बोली आर्यन प्लीज अब रुका नहीं जाता, डाल दो अपना इसमें। फिर में बोला कि क्या डाल दूँ? तो पूजा बोली कि अपना लंड मेरी चूत में डाल दो, तो में बोला पूजा अभी तो और मज़ा बाकी है। फिर वो बोली प्लीज अब रुका नहीं जा रहा है प्लीज डाल दो, फाड़ दो मेरी चूत को। फिर में बोला कि ज़रा आँखे खोलकर मेरा लंड देखो तो सही, तो फिर उसने अपनी आँखे खोली और मेरा लंड देखा तो वो बोली कि ये तो बहुत बड़ा है और ये मेरी चूत में नहीं जायेगा। फिर में बोला जानेमन तू चिंता मत कर, तेरी चूत मेरे लंड को पूरा ले लेगी। फिर वो बोली आर्यन मुझे डर लग रहा है। फिर में बोला कुछ नहीं होगा और में आराम से करूँगा, तो वो बोली आर्यन प्लीज आराम से करना।

फिर में उसकी चूत को चाटने लगा तो वो फिर से बोली कि आर्यन अब डाल दो अपना लंड मेरी चूत में, और फाड़ दो मेरी चूत को और आज मुझे अपनी बना लो। फिर में बोला ठीक है, लेकिन पहले मेरा लंड चूसो, तो वो बोली आर्यन प्लीज ये बहुत गंदा है। फिर में बोला कोई बात नहीं पूजा गंदा ही सही, लेकिन मुझे मज़ा आयेगा। फिर वो बोली नहीं आर्यन प्लीज मान जाओ, लेकिन में नहीं माना तो फिर पूजा मेरा लंड अपने हाथ में लेकर उसको किस करने लगी और अपने मुँह में लेकर चूसने लगी। फिर में और पूजा 69 की पोज़िशन में आकर एक दूसरे को मस्त करने लगे। फिर मैंने थोड़ा सा दबाव दिया और मेरा लंड पूजा के मुँह में अंदर तक चला गया और में पूजा के मुँह को चोदने लगा। अब मेरा लंड उसके गले तक जा रहा था और में उसकी चूत को चाट रहा था। अब उसकी चूत से नमकीन सा पानी निकल रहा था, अब में उसका पूरा पानी चाट-चाटकर साफ कर रहा था।

फिर में अपनी जीभ को उसकी चूत में अंदर बाहर करने लगा। आज मुझे जन्नत का मज़ा आ रहा था और अब वो भी मस्त होकर मेरा लंड चूस रही थी। फिर कुछ देर चूसने के बाद मैंने अपना लंड उसके मुँह से निकाला और उसे सीधा लेटाकर उसके ऊपर लेट गया। अब में पूजा की नंगी चूत पर अपना 8 इंच का लंड रगड़ने लगा, अब पूजा के मुँह से लगातार एयाया हहह्ह्ह्ह आहह की आवाजे आ रही थी। फिर में पूजा को किस करने लगा और अब में उसकी चूत पर अपना लंड रगड़ रहा था और मेरा लंड उसकी चूत के पानी से पूरा गीला हो गया था। फिर मैंने पूजा के सर के नीचे एक तकिया लगाया और एक तकिया उठाकर उसकी गांड के नीचे लगा दिया, जिससे उसकी गांड ऊपर उठ गई और अब मुझे उसकी चूत का मुँह साफ-साफ़ दिख रहा था। अब तकिया उसकी गांड के नीचे लगाने के कारण उसकी गुलाबी चूत का मुँह खुल गया था। फिर मैंने पूजा की दोनों टांगो को पकड़कर उठाया और उसकी दोनों टांगो को पकड़कर अपने कंधे पर रख दिया।

फिर में थोड़ा झुका तो उसकी टाँगे मेरे कंधे के ऊपर होने के कारण उसकी गांड थोड़ी ऊपर हो गई और अब मेरा लंड उसकी चूत के ऊपर रगड़ खा रहा था। फिर में और नीचे झुककर उसके लिप पर किस करने लगा और अब मैंने किस-करते करते अपने एक हाथ से अपना लंड उसकी चूत के मुँह के ऊपर रखा और एक जोरदार झटका दिया। अब उसकी टाँगे मेरे कंधे पर होने के कारण वो पूरी तरह से मेरी गिरफ्त में थी, जिससे वो हिल भी नहीं सकी और मेरा लंड उसकी चूत के पानी से गीला होने के कारण और उसकी चूत के पानी की चिकनाई के कारण उसकी चूत को फाड़ता हुआ आधा अंदर घुस गया। फिर पूजा की एकदम से चीख निकल गई, आआआ आर्यन, आह्ह्हह्ह आर्यन और में उसके लिप को फिर से किस करने लगा। अब पूजा की आँखों से आंसू आ गये थे। फिर में कुछ देर तक ऐसे ही लेटा रहा और वो मुझसे छूटने की नाकाम कोशिश करती रही। फिर में पूजा को किस करता रहा और उसके बूब्स से खेलने लगा, अब कुछ देर के बाद जब पूजा का दर्द कम हुआ तो वो नीचे से अपनी गांड को उठाने लगी, तो में समझ गया कि इसका दर्द कम हो गया है और अब में भी उसके ऊपर से धक्के मारने लगा।

फिर कुछ देर तक धीरे-धीरे धक्के लगाने के बाद में अपनी स्पीड को तेज करने लगा। अब पूजा को भी मज़ा आने लगा था और वो भी अपनी गांड को उठा-उठाकर मेरा साथ दे रही थी। अब मुझे उसके चेहरे पर दर्द नहीं दिख रहा था और अब दर्द की चीखो के बजाए अब उसके मुँह से सिसकारियां निकलने लगी, वो आआ आहह आआआआअहमम्म्ममममम आआआआआआहह आर्यन करने लगी थी। अब वो मेरी कमर पर अपने हाथों को फैरने लगी थी। अब में भी लगातार अपने धक्के तेज किए जा रहा था। फिर कुछ देर के बाद पूजा की सिसकारियां तेज होने लगी और अब उसे दर्द की जगह मज़ा आ रहा था और वो ज़ोर-ज़ोर से अपनी गांड उठा-उठाकर मेरा साथ दे रही थी। अब मेरा लंड उसकी चूत में पूरा जा रहा था। अब में और पूजा जन्नत में थे। अब पूजा अपनी गांड उठा-उठाकर मेरा लंड पूरा अपनी चूत में ले रही थी।

फिर कुछ देर के बाद पूजा की सिसकारियां तेज होने लगी और अब पूजा का शरीर टाईट होने लगा और पूजा एकदम से शांत हो गई। फिर में समझ गया कि वो झड़ चुकी है। फिर में धक्के लगाता रहा और उसे चोदता रहा। फिर मैंने पूजा की चूत में से अपना लंड बाहर निकाला और उसके बगल में लेट गया। अब पूजा मेरे ऊपर आ गई और मेरे चेहरे पर किस करने लगी। फिर कुछ देर तक किस करने के बाद मैंने पूजा को अपने लंड के ऊपर बैठाया और पूरा लंड उसकी चूत में घुसा दिया। अब में उसके नीचे था और पूजा मेरे ऊपर थी। अब मेरा लंड पूजा की चूत में था और अब वो खुद उछल-उछलकर मुझे चोद रही थी और आआहह आआआआआआआहह कर रही थी। अब मुझे भी बहुत मजा आ रहा था। फिर 25 मिनट तक चोदने के बाद जब पूजा का दुबारा पानी निकलने वाला था, तो वो ज़ोर-ज़ोर से मुझे चोदने लगी।

फिर मैंने उसे तुरंत नीचे लेटाया और अपना लंड उसकी चूत में घुसाकर उसे ज़ोर-ज़ोर से चोदने लगा, अब पूजा आआआआअहहाआआआआआहह कर रही थी। फिर कुछ देर के बाद मेरा पानी निकलने वाला था तो में बोला पूजा मेरा पानी निकलने वाला है। फिर वो बोली आर्यन प्लीज आज मुझे पूरी तरह से अपनी बना लो, मेरी चूत को अपने पानी से भर दो। फिर मैंने अपने धक्के और तेज कर दिए और पूजा भी मेरे हर धक्के का जवाब नीचे से अपनी गांड उठा-उठाकर दे रही थी। फिर कुछ देर के बाद पूजा का शरीर अकडने लगा और पूजा झड़ गई और मुझसे लिपट गई। अब पूजा की चूत टाईट हो गई थी और में भी पूजा की चूत के अंदर ही झड़ गया। अब में और पूजा बिल्कुल थक चुके थे और हम एक दूसरे के ऊपर ही लेटे रहे और में पूजा को किस करने लगा।

फिर मैंने पूजा को अपनी बाहों में उठाया और उसे वापस किरण के बेडरूम में ले आया, जहाँ आकर हम दोनों नंगे ही लेट गये। फिर कुछ देर तक में और पूजा एक दूसरे को किस करते रहे तो पूजा मुझसे बोली कि आर्यन मेरी चूत में हल्का-हल्का सा दर्द हो रहा है। फिर मैंने पूजा से बोला कि आज पहली बार है तो दर्द हुआ है और अब तुम्हें कभी दर्द नहीं होगा, बस आज के बाद तुम्हें मजा ही आयेगा। फिर मैंने पूजा से बोला कि किरण और तुम्हारी मम्मी कभी भी आ सकती है। फिर मैंने और उसने एक दूसरे को कपड़े पहनाये और किरण के बेडरूम को सही किया और उस तकिये के कवर को निकालकर बेड के नीचे डाल दिया और हम दोनों बेड पर ही लेट गये।

फिर कुछ देर तक आराम करने के बाद मैंने देखा कि 2 बज गये है तो में खड़ा हुआ और अपने मोबाईल से किरण को कॉल किया और पूछा कि कब तक आ रही हो? तो वो बोली कि 10 मिनट में आ रहे है। फिर मैंने मैन गेट का अंदर से लॉक खोल दिया। अब में और पूजा पढने लग गये। उसके बाद किरण आ गई और पूजा की मम्मी भी आ गई। फिर कुछ देर के बाद पूजा अपनी मम्मी के साथ अपने घर चली गई। फिर किरण बोली हो गई तुम्हारी और पूजा की प्यार वाली पढाई, तो मैंने बोला हाँ मेरी रंडी रानी, तो वो बोली कैसी लगी पूजा की चूत? फिर में बोला एकदम मस्त माल थी, उसको चोदकर मजा आ गया और अभी तो में उसे तेरे सामने भी चोदूंगा और तुझे उसके सामने चोदूंगा। फिर वो बोली जो करना है कर लो, लेकिन किसी और को कुछ पता नहीं लगना चाहिए।

फिर मैंने किरण को पकड़ा और उसके लिप को चूसने लगा और उसके बूब्स को दबाने लगा। फिर मैंने किरण को छोड़ा और बेड के नीचे से तकिये का कवर निकालकर किरण को दिया। फिर वो बोली ये क्या है? फिर में बोला कि ये मेरी और पूजा की आज के प्यार और उसकी चुदाई की निशानी है। फिर वो बोली कि ठीक है, लाओ में इसे धो दे देती हूँ। फिर में बोला कि किरण मैंने अपना पानी पूजा की चूत में ही डाल दिया है। फिर वो बोली कोई बात नहीं तुम उसे एक गोली लेकर दे देना या में ही उसको रात को दे दूँगी, आज पूजा रात को मेरे पास ही रहेगी। फिर में बोला तुम दोनों क्या करोगी? तो वो बोली कि जो तुमने किया है वही। अब में, पूजा और तुम आज रात को मिलकर एक दूसरे को चोदेगें। फिर में खुश हो गया और मार्केट जाकर एक प्रेगनेंसी रोकने की गोली ले आया और किरण को दे दी ।।

धन्यवाद …