जिम,एक्सर्साइज़ और सेक्स Exercise or sex 14

Hindi Sex Kahani जिम, एक्सर्साइज़ और सेक्स – Hindi Kahani -Gym Exercise or sex- 14

इतनी देर मैं सिम्मी आपनी जगह से उठ के बैठ गई थी और निकले हुए खून को हैरत से देख रही थी तो मैं ने मुस्कुरा के बोला के सिम्मी यह है तुम्हारी वर्जिनिटी और तुमहरि सील टूटने का प्रूफ. आज से तुम कुँवारी नही बलके चूड़ी चुदाई लड़की हो और फिर हम दोनो हासणे लगे. मैं ने उसको आपनी दस्ती (हॅंडकरचीफ) दी और बोला के इसको तुम आपने पास आस आ सोवेनेईर की तरह रखो और मैं तुम्हारी पनटी को आपने पास हमेशा रखूँगा तो उसने मुझे चूम लिया और बोली मेरे राजा तुम बोहोट ही आचे हो और मुझे गर्व है के मैं ने आपनी वर्जिनिटी तुमको दी और तुम्हारे यह मस्त लंड से आपनी चुत की, उसने आपनी चुत की तरफ आपनी उंगली से ईशर करते हुए बोला के इसकी सील तुडवाई. थॅंक योउ राज्ज.. मेी तो ऐसे मस्त चुत को चोदने के बाद निहाल हो गया था. और इश्स बात पर खुश था के ऊपेर लगे वीडियो रेकॉर्ड करते कॅमरा मैं सेफ था.

सिम्मी को चोदने के लिए अब मुझे कोई दोष नही दे सकता था. मैं ने उसको ज़बरदस्ती नही चोदा था. उसने मुझे धमकी भी तो दी थी के अगर मैं उसको नही चोदुगा तो वो शोर मचा देगी के मैं उसकी इज़्ज़त लूटना चाहता था. खैर मुझे उसकी कुँवारी चुत चोद के बोहोट ही मज़ा आया था.

टाइम देखा तो ऑलमोस्ट 3 बाज रहे थे. मैने सिम्मी से पूछा के अब कैसा फील कर रही हो तो उसने बोला के ऐसे फील कर रही हू जैसे कोई कबूतर खुली हवा मैं बोहोट ऊँचा उड़ रहा हो और उसकी आँखें मस्ती से बंद हो गई. मैं ने उसको टेबल से नीचे उतरा और बोला के चलो फ्रेश हो जाओ हॉट स्टीम बात लेलो तो एक दूं से फ्रेश हो जाओगी. उसने बोला के राज्ज मुझे बोहोट भुख लगी है तो मुझे याद आया के हा भुख तो मुझे भी बोहोट लगी है. मैं ने करीब के पिज़्ज़ा हूट से एक लार्ज चीज़े पिज़्ज़ा ऑर्डर किया. पिज़्ज़ा हूट मेरे जिम के और कॉलेज के बीच मैं था.

हार्ड्ली 10 मिनिट के अंडर पिज़्ज़ा आ गया. मैं ने डोर पे ही रिसीव कर के उसकी पेमेंट की और वो डेलिवरी बॉय वापस चला गया उसने देखा ही नही के अंडर किओ और भी है या सिर्फ़ मैं एकेला ही हू.

मैं ने और सिम्मी ने क्विक हॉट स्टीम शवर लिया जिस से हम दोनो एक दूं से फ्रेश हो गये. मैं पिज़्ज़ा का पीस आपने डटो मैं पकड़ के सिम्मी के मूह मैं देता और दोनो मिल के खाते और किस भी करते जाते. सिम्मी एक पीस आपने मूह मैं रख के मुझे खिलती और हम किस करते करते पिज़्ज़ा खाने लगे. ऐसी मस्ती चाह गई थी दोनो पर. अभी हमारा पिज़्ज़ा ख़तम हुआ ही था के सिम्मी के मोबाइल की घंटी बाजी. दूसरी तरह पूम्मी थी. दोस्तो अब दोनो का कॉन्वर्सेशन सुनिए :

सिम्मी : ही पूम्मी खा है रे तू.

पूम्मी: तू बोल कैसी है तेरी कमर

सिम्मी: ठीक ही यार बोहोट ही मस्त मालिश करता है राज्ज

पूम्मी: ओहो तो उस हॅंडसम का नाम राज्ज है

सिम्मी : हा. तू भी करवा ले आपने बदन की मालिश मज़ा आएगा

पूम्मी: साली तू नंगी हो के करवाई किया मसाज

सिम्मी : नही रे उसने मेरे बॅक पे कापद डाला था नंगी कैसे होठी

पूम्मी: वाहा पे भी की किया उसने मालिश

सिम्मी : कहा पे

पूम्मी: अरे साली इतना नही समझती आबे तेरी चुत की भी की किया मालिश

सिम्मी : चल भाचोद साली, मेरी चुत मैं दारद था किया. उसने तो बस बॅक की ही की

पूम्मी: फिर तेरी गांड देखी होगी उसने

सिम्मी : हा वो तो देखी है

पूम्मी: अछा सुन्न सच बता वो हॅंडसम का लौदा देखा किया तू ने
वो वही है किया तेरे पास.

सिम्मी : नही वो दूसरे रूम मैं है.

पूम्मी: सच बता तेरी चुत की भी म्लिश की ना उसने ?

सिम्मी : धीरे से मुस्कुराते हुए.. हा थोड़ी की मज़ा आया

पूम्मी: मुझे पता था के साली तू बड़ी हरमज़ड़ी है ऐसे हॅंडसम
और वेल बिल्ट यंग सोतेली माँ को देख के तेरी चुत मैं खुजली होठी है

सिम्मी : तू भी आपनी चुत की खुजली मिटा ले साली. रातो मेी मेरी चुत
चत्ट ती है और मेरे से आपनी चुत चत्वारी है.. एक टाइम चुदवाले ना
मज़ा आएगा.

पूम्मी: ना बाबा तू ही चुद्वया ले मुझे चुद्वयाने का कोई शौक नही
है

सिम्मी : ओहो कल ही तो बोल रही थी के अगर सुरेश के साथ फ्रेंडशिप
बढ़ गई तो उस से चुद्वया लेगी.

पूम्मी: अछा सुन्न तू ने उसका लौदा देखा है ? कैस है ?

सिम्मी : हा पहले तो उसने जो टवल लपेटा हुआ था उस मैं से उसका एरेक्षन दिख रहा था फिर जब वो पिशब कर रहा था तब देखा. किया बतौ तेरे को कितन बड़ा और मोटा है. मुझे तो देख के डर लग गया. ऐसा लंड चुत के अंडर घुसे तो फाड़ ही डाले.

पूम्मी: हम्म इसका मतलब है तू चुड चुकी है उस से

सिम्मी : चल साली तेरी चुत मैं खुजली है तो चुद्वया ले ना अबी आके
उस से

पूम्मी: अछा सुन वो सब बाद मैं सोचेगे. मैं अभी नही आ सकती मम्मी बॅंक गई है वाहा से कुछ डॉक्युमेंट्स होना होगा तो फोन करेगी. शाएद 2 घंटे और लग जाएगे किया तू वेट कर सकती है.नही तो वो तेरे हॅंडसम से बोल तुझे चोद के घर ड्रॉप कर देगा.

सिम्मी : कोई बात नही बहेर गर्मी भी बोहोट है याना एर कंडीशन चल रहा है मैं यही वेट कर लेती हू. तोड़ रेस्ट मिल जाएगा तू 5 बजे तक आजा साथ ही चलते है.

पूम्मी: ओहो वो हॅंडसम इतना पसंद आगेया के और 2 घंटे उसके साथ रहाँा चाहती है. चल ओक मैं फिर कॉल करती हू मम्मी का फोन आ रहा है.

सिम्मी ने आपना मोबाइल स्पीकर्स पे रख दिया था और मैं दोनो के कॉन्वर्सेशन को एंजाय कर रहा था और कभी कभी धीरे से इशारे भी कर रहा था और सिम्मी के बूब्स और चुत को सहला भी रहा था. उसकी चुत फिर से गीली होने लगी थी.

मैं ने सिम्मी को आपनी बहो मैं समेत ते और उसके हाथ को आपने एरेक्ट लंड पे रखते हुए बोला के अभी हमारे पास 2 गहाँते और है. एक काम तो अभी हुआ ही नही. सिम्मी ने तजुब से पूछा कॉन्सा काम राज्ज. मैं ने बोला के अभी तो तुम्हारी कुँवारी गांड की सील भी तो तोड़नी है. सिम्मी फॉरन ही आपने कान पकड़ने लगी और बोली के ना बाबा मुझ से यह नही होगा तो मैं ने उसको उसकी बात याद दिलयी.

उसने बोला के नही मेरे प्यारे राज्ज आज नही यार किसी और टाइम मेरी गांड मार लेना आज तो चुत को चोद चोद के एक ही शॉट मैं उसका भोसड़ा बना दिया. वो आपनी चुत की तरफ देखते हुए बोली. देखो कैसी सूज गई है. मैं ने बोला के तुमको अभी भी चुत मैं दारद हो रहा है किया तो उसने आपनी आँखें बंद कर के मस्ती से बोला के हा थोडा थोडा मीठा मीठा दारद हो रहा है और यह दारद बोहोट ही अछा लग रहा है. मैं ने बोला के गांड मरने के बाद भी ऐसे ही मीठा मीठा दारद होगा. बॅस एक टाइम तुम गांड मरवालो प्लीज़.

तुमको पता है के जब तक लड़की के तीनो छेदो मैं लंड ना डाला जाए वो लड़की से औरत नही बनती तो वो हासणे लगी और बोली के अछा पता लेते हो तुम लड़कीों को ऐसे बातें कर के. मैं ने बोला के चलो आओ मैं तुमको एक टॅबलेट खिलता हू देखो तुम कैसा फील करती हो. टॅबलेट पे मुझे याद आया के मैं सिम्मी की चुत के अंडर ही झाड़ गया था उसको ई-पिल खिलाना ज़रूरी था पता नही कल के दिन कुछ ऊँच नीच हो गई तो लेने के देने पद जाएगे. मैं ने आपना क्न्सर्न उसको बताया तो उसने बोला के ठीक है राज खिला दो मुझे वो ई-पिल मैं भी कोई रिस्क नही लेना चाहती.

मैं उसके नंगे बदन को आपनी गोदी मैं उठा के दूसरे रूम मैं जाने लगा तो उसने मेरे गले मैं आपनी बाहेई दल दी और मुझे नशीली नज़रो से देखते हुए ई लव योउ राज्ज, ई लव योउ फ्रॉम थे बॉटम ऑफ मी हार्ट एंड सौल बोला और मेरे मूह मैं आपनी जीभ दल के फ्रेंच किस करने लगी.

मैं उसको ऐसे ही उठाए उठाए दूसरे रूम मैं आया यहा एक कुशन वाली सएतटे पड़ी थी जिसके बॅक रेस्ट नही था. उस पर उसको लिटा दिया. और दूसरे कपबोर्ड से टॅब्लेट्स निकली और सिम्मी को खिला दी. टॅबलेट खिलाने के 5 ही मिनिट के अंडर टॅबलेट ने जादू का काम किया और सिम्मी को एक दूं से आराम आ गया. मैं ने बोला के सिम्मी अब तुम पलट के लेट जाओ मेी तुम्हारी गांड मैं एक लोशन लगौगा जिस से तुमको बिल्कुल भी तकलीफ़ नही होगी बॅस तुम आपने बदन को ढीला छ्होर देना.

मैं सच कहता हू के तुमको रत्ती बराबर भी तकलीफ़ नही होगी. मैं ने उसको चूमते हुए कहा तो उसने मेरे लंड को आपने हाथो मैं पकड़ के दबाया और बोला के राज्ज तुम्हारे यह मूसल से मुझे बोहोट डर लग रहा है तो मी ने बोला के सिम्मी प्लीज़ मेरे ऊपेर भरोसा रखो ई स्वेर के तुमको तकलीफ़ तो होगी पर ना होने के बराबर. बोहोट ही लाइट पाईं महसूस होगा. उसने मुझे झुका के चूमते हुए कहा के अब यह सिम्मी आपने राजा की रानी है. तुम जैस कहोगे वो मेरे लिए धरम के बराबर होगा. मैं ने उसको भी चूमते हुए बोला के थॅंक्स सिम्मी. मैं आपनी रानी को तकलीफ़ नही होने दूँगा.

मैं ने अलमारी से क्शयलोकायन लोशन निकाला और सिम्मी को पेट के बाल उल्टा लिटा के उसकी गांड को काउच से थोडा ऊपेर उठाया और उसकी गांड मेी लोशन भर दिया. थोड़ी ही देर मैं सिम्मी ने बोला के वा राज्ज मेरी गांड मुझे ठंडी ठंडी लग रही है और मुझे लग रहा है के मेरी गांड मेी कुछ भी नही है, गांड एक दूं से खाली खाली लग रही है. मैं मुस्कुरा दिया. यह लोशन का अनेसथेटिक आक्षन है. इश्स लोशन ने सिम्मी की गांड को एक दूं से सुन्न कर दिया.

अब सिम्मी की गांड मेी लंड तो किया कोई मिज़ाइल भी घुस जाए तो भी उसको पता ही नही चल सकता. मैं ने सामने रखे टीवी खोल दिया और उसमे क्षकशकश का एक चॅनेल लगा दिया. इत्तेफ़ाक़ से वो टीवी चॅनेल पर भी एक खूब तगड़ा आदमी आपने बोहोट मोटे और लंबे लंड से एक छोटी लड़की की गांड मार रहा था और वो लड़की मस्ती मैं आपनी गांड मरवा रही थी और साथ मैं आपनी चुत का मसाज भी कर रही थी. मैं ने सिम्मी से बोला के देखो वो लड़की भी कैसे मस्ती मैं आपनी गांड इतने बड़े लौदे से मरवा रही है और कितनी उत्तेजीट है के गांड मरवाते मरवाते आपनी चुत का मसाज भी कर रही है.

सिम्मी ने बोल के हा तुम ठीक कह रहे हो राज्ज शाएद उतना दारद नही होठा होगा जितना मैं समझ रही हू और शाएद गांड मरवाने मैं मज़ा भी आता होगा. मैं बोला के हा आता है तुमको भी आएगा.

मेी अलमारी से वॅसलीन टाइप की एक क्रीम निकाला और आपने हाथो मैं ले के सिम्मी की गांड को भर दिया. इतनी देर मैं क्शयलोकायन लोशन उसकी गांड के अंडर अब्ज़ॉर्ब हो गया था और आपना असर दिखा रहा था. सिम्मी की गांड एक दूं से सुन्न हो गई थी. अब सिम्मी को ऐसा लग रहा था जैसे उसकी गांड है ही नही. सिम्मी के गांड मैं क्रीम भरने के बाद मैं वो क्रीम का डिब्बा ले के सिम्मी के सामने आया और उसके हाथ मैं क्रीम का डिब्बा देते हुए बोला के तुम खुद ही आपने हाथो से मेरे लंड पे क्रीम लगा दो. सिम्मी ने क्रीम का डिब्बा ले लिया और क्रीम लगाने से पहले मेरे लंड को अछी तरह से चूसा और लंड के सूपदे को आपने डटो से काटा.

मेरा लंड तो उसके मूह का स्पर्श पाते ही एक दूं से फूलने लगा और ऐसे हिलने लगा ऐसे हिलने लगा जैसे किसी नाग साँप का फान्न हो. थोड़ी देर तक लंड को चूसने के बाद सिम्मी ने ढेर सारी क्रीम मेरे लंड पे माल दी. मैं वापस पलट के सिम्मी की गांड की तरफ आ गया. अब पोज़िशन ऐसी थी के सिम्मी वो कुशंड काउच पे उल्टी लेती हुई थी और उसकी टाँगें खुली हुई थी और घुटनो से थोड़ी सी मूडी हुई थी और ऐसी पोज़िशन मैं सिम्मी की गांड थोडा और ऊपेर उठ गई थी.

मैं सिम्मी के ऊपेर उल्टा लेट गया. उसके घुटनो को आपने घुटनो से सता दिया और झुक के उसके शोल्डर्स को पकड़ लिया और अब मैं और मेरा लंड सिम्मी की गांड पे अटॅक करने को रेडी थे. जैसे ही मेरे लंड का सुपरा सिम्मी की गांड मैं लगा, उसका बदन एक सेकेंड के लिए टाइट हुआ. मैं धीरे से उसके कन मैं बोला. डॉन’त वरी सिम्मी तुम्हाई कुछ नही होगा, तुम आपना बदन ढीला छ्होर दो बॅस और मेरे ऊपेर भरोसा रखो. तो उसने ओक बोला और हा मेी आपना सर हिला दिया. वो टीवी पे क्षकशकश फिल्म देखने मैं बिज़ी थी. मेरे लंड का एरेक्षन इतना पवरफुल था के लंड का डंडा मेरे पेट से लगा हुआ था.

मैं ने सिम्मी के कान मेी बोला के सिम्मी मेरे लौदे को आपनी गांड का रास्ता दिखाओ तो उसने आपना एक हाथ हमारे बदन के बीचा किया और मेरे लंड के डंडे को पकड़ के पहले तो मस्ती से दबाया और फिर आपनी गांड के सुराख मैं लंड के सूपदे को रगड़ने लगी. लंड का सूपद जब सिम्मी की गांड के सुराख मैं अटक गया तो फिर उसने आपना हाथ वाहा से निकल लिया.

मुझे पता था के अब सिम्मी को कुछ भी फील नही होगा. मैं ने उसको बोहोट ही टाइट पकड़ लिया और आपनी गांड को उठा के आपने लंड को उसकी गांड के सुराख मैं अटका के इतनी ज़ोर से धक्का मारा के मेरा पुर का पुवर लंड उसकी एक ही झटके मैं उसकी गांड को फड़ता हुआ उसके पेट तक घुस गया. इतना क्शयलोकाने लोशन लगा ने के बावजूद उसके मूह से चीख निकल गई आआआआअहह र्रर्राआआआजजजज्ज्ज आआआआआआअहह हह गगग्गगाआान्न्न्ँद्द्द्द्दद्ड प्प्प्प्पफहााआटतततत्त गगग्गगाआआईयईई र्रर्रााज्जजज म्‍म्मैंएईईइ म्‍म्माआआर्रर्ृिइ आआआआआआहह ननीिकककाअल्ल्लूओ प्प्प्प्प्ल्ल्लीीज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़ और उसका चेहरा लाल हो गया. उसके गर्दन की नसें फूल गई. मेी उसके ऊपेर लेता रहा ता के वो ज़ियादा मचल ना सके उसको आपनी ग्रिप मैं टाइट पकड़े रखा. एक ही मिनिट के अंडर शाएद फिर क्शयलॉसिने का लोशन आपना कम करने लगा.

फिर से सिम्मी को उसकी गांड ठंडी लगने लगी और खाली खाली लगने लगी जब के उसकी गांड के अंडर मेरा इतना लंबा मोटा लंड घुस्स चुका था. मैं ने उसकी गांड मारना शुरू कर दिया और साथ मैं उसके बूब्स को भी मसल रहा था. अब सामने रखे टीवी पर चुदाई का सीन चल रहा था जिसे देख के उसकी चुत भी गीली हो गई थी और चुद्वयाने का भूत फिर से उसके सर पे सॉवॅर हो चुका था.

उसकी टाइट गांड को ज़ोर ज़ोर से मरता रहा और वो भी आपनी गांड उठा उठा के मज़े लेती रही. थोड़ी ही देर के अंडर मेरे लंड के सुराख से गरम गरम लावा निकल के उसकी गांड भरने लगा. 5 – 6 पिचकारियाँ मरने के बाद मेरा लंड उसकी गांड के अंडर ही शांत हो गया. और मैं उसके ऊपेर गिर पड़ा. सिम्मी आपने हाथ पीछे कर के मेरे सर को सहला रही थी और बोल रही थी के राज्ज तुमने ठीक कहा था मुझे तो थोडा भी दारद न्ही हुआ लायकिन अब यह टीवी पे चलती फिल्म देखते मेरी चुत मीया चईटियाँ रेंगने लगी हिया उनका किया करू तो मैं ने बोला के तुम चुत की फिकर ना करो उसका इलाज है मेरे पास.