छोटी बहन चोदने का मजा लिया

हेलो दोस्तों मैं हूं किशन antarvasna मैं मेरी पहली कहानी kamukta लिख रहा हूं, अगर कोई भूल हो जाए तो मुझे माफ कर देना. मेरी उम्र २३ साल है. मैं भुवनेश्वर उड़ीसा से हूं. मैं एक बैंक में जॉब करता हूं. मेरी हाइट ५ फुट ७ इंच है और दिखने में ठीक ठाक हूं. हैंडसम भी हु. मेरा लंड ज्यादा बड़ा नहीं है लेकिन ६.५ इंच तो होगा. में इस साइट का रेगुलर रीडर हु लेकिन अभी तक कभी कहानी नहीं लिखी है. आज यह कहानी पहली बार लिखने जा रहा हूं. जो भी हो अपने लंड को हीलाने में और चूत को उंगली करने के लिए तैयार हो जाए.

मेरी कहानी मेरी छोटी सिस्टर की है जिसका नाम बबिता है. वह मेरे फूफा जी की बेटी है लेकिन बचपन से ही हमारे घर रहती है इसलिए हम काफी क्लोज है. मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में भी उसे पता है. मेने मेरी गर्लफ्रेंड के साथ सेक्स किया है और उसे भी पता है. वह मेरे से ६ महीने छोटी है पर एक ही क्लास में पढ़ते हैं. उसकी फिगर ३४-२६-३४ है. यह एक सच्ची घटना है, जब मैं बारहवीं में पढ़ता था तब की बात है. हम दोनों का १२वी का एक्जाम खत्म हुआ था.. हमारा इंजियरिंग का एग्जाम था जो भुवनेश्वर में सेंटर पड़ा था. तो हम दोनों एक दिन पहले ही भुबनेश्वर के लिए निकल गए, एक होटल में रुक गए, भाई बहन थे इसलिए दो बेडरूम वाला रूम बुक कर लिया.. शाम को रुम पर आकर पहुंच गए.

उसने जींस और टॉप पहनी हुई थी, उस वक्त तक मेरे मन में उसके लिए कोई गंदा ख़याल नहीं आया था. लेकिन जब उस ने ड्रेस चेंज करने के लिए मेरे को घूमने को बोला तो मैं मिरर से देखा कि वह ब्लैक कलर की ब्रा पहनी हुई थी. जिस से मेरा लंड खड़ा हो गया.उसके बाद वह बाथरुम में फ्रेश होने लगी. उसके बाद जब मैं गया तो देखा कि उसकी ब्रा और पेंटी बाथरूम में पड़ी थी. पहली बार उसकी सोच में मुठ मारकर फ्रेश होकर चला आया. रात के ९ बज गए थे.. हमने बाहर से खाना और कोल्ड ड्रिंक मंगवाया. फिर डिनर खत्म होने के बाद सोने के लिए अपने अपने बेड पर गए. मुझे नींद नहीं आ रही थी इसीलिए में मोबाइल पर सेक्स कहानी पढ़ रहा था. उस टाइम बबिता भी मेरे पास आ गई तो मैंने उसे अचानक बंद कर दिया. उसने मेरे को मेरा मोबाइल मांगा तो मैंने दे दिया. और बाथरुम चला गया. आने के बाद देखा तो वह मेरे मोबाइल पर ब्लू फिल्म देख रही थी और अपने बूब्स को सहला रही थी. कुछ टाइम बाद मेरे को देखा और डर गई. मैंने फिर से ब्लू फिल्म कर दी. मेरा लंड खड़ा होने लगा और वह भी गर्म होने लगी. उसकी सांसे तेज होने लगी. मैं उसके कंधे पर हाथ फेरने लगा उसे पीछे से किस करने लगा. उसके बाद उसे लिप किस करने लगा.तब अचानक से मुझ से दूर चली गई और मैंने फिर से उसे पकड़ कर चूमने लगा. कुछ समय बाद वह भी मेरा साथ देने. मेरा एक हाथ उसके कोमल बूब्स के ऊपर था और हम बहुत प्यार से अपने मुह का थूक एक दुसरे के मुह में डाल कर किस कर रहे थे. कुछ आधा घंटा बाद हम एक दूसरे से अलग हुए. में उसके दूध को पकड़ कर दबाता रहा और वह मोन करने लगी. मेने उसकी टॉप निकाल दी.. वह अब मेरे सामने ब्रा में थी. अब वह मेरे सामने स्कर्ट में थी. में उसके नंगे बूब्स को दबाता रहा और चूसता रहा, वह सिर्फ मोंन कर रही थी आह्ह औऊ ई ओह्ह हां यस्स हहह ओह्ह हहह औउ अहह अम्म आह भैया चुसो. २० मिनिट के बाद मेने उसकी स्कर्ट और पेंटी भी निकाल दी..

फिर उसने भी मेरे कपड़े उतार दीये. हम दोनों पूरे नंगे खड़े थे. में उसको अपना लंड चूसने को बोला तो वह मुह मेरे लंड के पास ले आई और चूसने लगी, वाह क्या फीलिंग आ रही थी? मैं तो सातवें स्वर्ग में था. कुछ २० मिनट चूसने के बाद मैं उसके मुंह में ही झड़ गया और सारा पानी पी गई. मेरे लंड को चाट कर साफ कर दिया. उसके बाद मैं उसकी चूत को चाटने लगा वह पूरी गर्म हो गई थी. वह मेरा मुंह अपनी चूत में रगड़ रहीं थी अहः औऊ अह्ह्ह ओऊ इई अह्ह्ह यस्स और चुसो प्लीज़ सक मी और जोर से चूसो ऐसे ही कर रही थी.. १० मिनट में वह भी जड गई.

अब वो कंट्रोल नहीं कर पा रही थी और डालो प्लीज़ डालो अंदर ऐसे कर रही थी. मैं भी तैयार हो गया और लंड को चूत के पास ले कर जोर से धक्का दिया तो अंदर चला गया और जोर से चिल्लाने लगी. में उसे किस करने लगा आह्ह चिल्लाने लगी और बोली निकालो नहीं तो मर जाउंगी. मेने नहीं निकाला और जोर से धक्का लगाया तो पूरा अंदर चला गया. मैं मर गई… अमा मर गयी.. ऐसे चिल्लाने लगी. पर कुछ देर के बाद वह शांत हो गई. और मैं अंदर बाहर किया. वह मेरा साथ दे रही थी, मैं उसे पूछा कि क्या तुम पहले कभी सेक्स नहीं किया? तो वह मेरे को बोली की उस के बॉयफ्रेंड ने उसकी फिंगरिंग किया था और वह अपने आप कभी कभी बेंगन अपनी चूत में डालती थी और एक घंटा चोदने के बाद में उसकी चूत में जड़ गया.

वह अपनी गांड उठा उठा कर साथ दें रही थी. इसी बिच वह तीन बार झड़ चुकी थी. उस रात हम वहां दो बार सेक्स किए और सो गए.. जब सुबह उठे तो हम नंगे पड़े थे. सुबह उठकर फिर एक बार सेक्स कर के एक्जाम देने के लिए चले गए. एग्जाम के बाद हम और भी २ दिन भुवनेश्वर में रहे और जबरदस्त मजे से सेक्स किया. मैं उसकी गांड में भी चोदा. अगली कहानी में बताऊंगा कैसे मैंने उसकी गांड में लंड डाला और गांड मारी.. उसके बाद जब भी हमें मौका मिलता हम सेक्स करते थे.