चोकोलेट के साथ चुदाई

चोकोलेट के साथ चुदाई Hindi Sex Stories Antarvasna Kamukta Sex Kahani Indian Sex Chudai

हेलो एव्री वन. ये मेरी पहला एक्सपीरियंस है, वो भी मेरी एक्स गर्लफ्रेंड के साथ. मेरा नाम फैजल है और मैं महारास्ट्र से हु. दिखने में गुड लुकिंग हु, क्यूट हु, स्मार्ट हु और थोड़ा डरपोक किस्म का हु. ये स्टोरी रियल है मेरे और मेरी गर्लफ्रेंड के साथ हुई चुदाई की. अगर आप सभी को स्टोरी अच्छी लगे, तो मुझे मेल करना. तो मैं स्टोरी स्टार्ट करता हु. बात उन दिनों की है, जब मैंने ११थ पास करके १२थ में एडमिशन लिया था और मेरी उम्र १८ साल पार कर चुकी थी. मैंने आर्ट्स कोर्स लिया था. मेरा कॉलेज का १स्त डे था और मैं क्लास ढूंढते हुए अपनी क्लास में पहुच गया. मैंने देखा, कि वहां पहले से ही काफी सारे स्टूडेंट थे, कुछ बॉयज और कुछ गर्ल्स. मेरी नज़र वहां बैठी हुई एक लड़की पर पड़ी, वो बहुत ही खुबसूरत थी. मेरी हार्टबीट उसको देखते ही फ़ास्ट हो गयी थी. मैंने उसे देखता हुआ आगे बढ़ रहा था, कि अचानक मेरा पैर एक बेंच से टकराया और मैं धम्म से गिर पड़ा. सब मुझपर हंस पड़े और मुझे भी हंसी आ रही थी.

मुझे थोड़ी शर्म भी आ रही थी. मैं जमीन पर गिरा पड़ा था. तभी किसी का हाथ मेरी तरफ बढ़ा सहारा देने के लिए. हाथ देने वाले था फेस देखा, तो पता चला कि ये वही लड़की है, जिसके चक्कर में मैं गिरा था. खैर, उसने मुझे अपना हाथ दिया और मैं उसके सहारे से खड़ा हो गया. उसे मुझे हलकी सी स्माइल दी और कहा – “हाई, आई ऍम योगिता. मैंने भी रेस्पोंस में उसे स्माइल दी और अपना इंट्रो दिया”. उतने में क्लास टीचर आ गयी और सब अपनी- अपनी जगह बैठ गये. उसने मुझे अपने पास वाली सीट पर बैठने को कहा. सो, मैं उसके बगल में बैठ गया. फिर इस तरह हमारी फ्रेंडशिप हो गयी और हम डेली साथ बैठते थे. हम दोनों कि दोस्ती शुरू हुए करीब १ विक गुजर गया. एकदिन हम क्लास में बैठे हुए थे, तो योगिता ने मुझे से पूछा – तुम्हारा सेल नंबर क्या है? तो मैंने उसे अपना नंबर दे दिया और उसने अपना नंबर मुझे दिया. अब हम मेसेज में भी चैट करते थे. एकदिन, मैंने हिम्मत करके योगिता को पूछा, क्या तुम्हारा कोई बॉय फ्रेंड है?

तो उसने रिप्लाई में कहा – क्यों? जानकर क्या करना है? मैंने कहा – कुछ नहीं, ऐसे ही पूछा. तो उसने कहा – नहीं है. मैंने पूछा – क्यों? तो वो बोली – अभी तक कोई पसंद नहीं आया. मैंने फिर से उससे पूछा – कि तुम्हे किस तरह के लड़के पसंद है? किस टाइप का बॉय फ्रेंड चाहिए? वो कुछ नहीं बोली, मतलब उसका रिप्लाई नहीं आया. मैंने उसे ४-५ मेसेज किये, बट उसने कोई रिप्लाई नहीं किया. मैंने मन में सोचा, कि हो सकता है उसका मेसेज पैक ख़तम हो गया हो. नेक्स्ट डे, मैं कॉलेज में गया, तो मेरी मुलाकात योगिता से हुई. मैंने उससे पूछा – तुमने मेरे मेसेज का रिप्लाई क्यों नहीं किया, तो वो बोली – कॉलेज ख़तम होने पर बताउंगी. मैंने कहा – ओके. जैसे ही कॉलेज ख़तम हुआ, सब के जाने के बाद. मैंने उससे पूछा – अच्छा, अब बताओ. वो बोली – तुम्हे कल रिप्लाई इसलिए नहीं किया, क्योंकि मैं तुम्हे अपने सामने बताना चाहती थी. मुझे तुम्हारे जैसा ही बॉय फ्रेंड चाहिए. ये सुनते ही मेरी तो ख़ुशी का पता ही नहीं चला और मैं इतना एक्साइट हो गया, कि मैंने उसको हग कर लिया और उसे कसकर पकड़ लिया. उसने भी मुझे हग कर लिया.

फिर, हम दोनों अलग हुए और उसने मुझे कहा – फैजल, क्या तुम मेरे बॉय फ्रेंड बनोगे? मैं कहा – योगिता, मैं तो तुम्हे पहले टाइम देखते ही तुम्हारा दीवाना हो गया था. ये सुनकर वो ज्यादा एक्साइट हो गयी और मुझे फिर से हग करने लगी. फिर हमने लिप किस किया. मैंने उसको कसकर पकड़ लिया और लगा रहा किस करने. ५ मिनट के बाद, हम दोनों अलग हुए और एक दुसरे को नॉटी स्माइल दी और घर के लिए चले गये. फिर क्या था, हम दोनों लेट नाईट चैट करते थे और कुछ वक्त के बाद, हम सेक्स के बारे में बात करने लगे. ऐसा करते- करते हमारे एग्जाम करीब आ गये और मैंने उससे कहा – अब हम एग्जाम ख़तम होने तक चैट नहीं करेंगे. उसने कहा – नहीं. मैंने उसे समझाते हुए कहा – यार, अगर पढाई नहीं की, तो फेल हो जायेंगे. तो वो बोली – अच्छा ओके, लेकिन कभी- कभी तो किया करेंगे. मैंने कहा – हाँ. काफी वक्त निकल गया और हमारे एग्जाम ख़तम हो गये. योगिता ने मुझे कहा – आज शाम को तुम मेरे घर आना. तुम्हारे लिए कुछ है.. जो मैं तुम्हे देना चाहती हु.

मैं कहा – ओके. कितने बजे आना है. वो बोली – ७ बजे. मैंने कहा – ठीक है. फिर, मैंने उसे हग किया और घर चल दिया. शाम को मैं रेडी होके योगिता के घर पहुच गया और देखा, घर पर कोई नही था. मैंने उससे पूछा – सब कहाँ गये है? तो वो बोली – सब लोग मूवी देखने गये है. मैं बोला – तुम क्यों नहीं गयी? वो बोली – नहीं, अगर मैं जाती. तो तुम्हे वो चीज़ कैसे दे पाती. मैंने बोला – ओह्ह्ह्ह.. हाँ, वो क्या चीज़ है. जो तुम मुझे देना चाहती हो? उसने कहा – मेरे बेडरूम में आओ. मैं समझ गया, कि आज कुछ अच्छा होगा. मैं उसके पीछे- पीछे चल दिया, जैसे ही हम उसके बेडरूम में पहुचे. तो उसने डोर लॉक किया और मुझे टाइट हग किया और किस करने लगी. उसने कहा – आज ये जिस्म तुम्हारा है. इसके साथ जो करना है, कर सकते हो. ये सुनते ही, मैंने उसे अपनी बाहों में उठकर बेड पर ले गया और उसको किस करने लगा. १० मिनट किस करने के बाद, मैंने उसके कपड़े उतार दिए. अब वो सिर्फ ब्रा- पेंटी में मेरे सामने थी. पिंक कलर कि ब्रा- पेंटी में क्या लग रही थी.

उसके बूब्स का साइज़ ३६ था. फिर मैंने उसके पुरे जिस्म पर किस करना शुरू किया रो पागलो कि तरह हो रही थी और अजीब सी आवाज़ निकाल रही थी. फिर मैंने उसकी पिंक ब्रा भी उतार दी. उफफ्फ्फ्फ़ दोस्तों, उसके टाइट-टाइट बूब्स गजब ढा रहे थे. उसके पिंक निप्पल को मैं अपने होठो में लेकर चूसने लगा. मुझे उसके बूब्स चूसने में बड़ा मज़ा आ रहा था. फिर योगिता बोली – फैजल और मत तड़पाओ… डाल दो अपना लंड मेरी चूत में. बुझा दो मेरी चूत की प्यास. प्लीज और मत तड़पाओ जान्न्नन्न.. प्लीज … फिर मैंने उसे अपना लंड चूसने को कहा. तो उसने झट से मेरा लंड अपने मुह में ले लिया और चूसने लगी. उसने मेरा लंड काफी वक्त तक चूस कर लाल कर दिया और अब मेरा लंड पूरा रेडी हो गया था. मैंने ज्यादा देरी ना करते हुए, उसकी चूत की बढ़ा, उसकी चूत पूरी तरह से साफ़ थी. हलके- हलके से बाल थे. पहले मैंने उसकी दोनों टांगो को अपने शोल्डर पर रखा और अपना लंड उसकी चूत से सटा दिया. अब मैं उसकी चूत में अपना लंड डालने की कोशिश कर रहा था.

बट उसकी चूत वर्जिन होने कि वजह से टाइट थी और मेरा लंड उसकी चूत में घुस नहीं रहा था. तब मुझे याद आया, कि मैं योगिता के लिए चोकोलेट लाया था. जो उसे देना ही भूल गया था. मैंने फट से चोकोलेट को लिया और डेरी मिल्क होने कि वजह से वो पूरी तरह मेल्ट हो चुकी थी. मैंने उसे पूरा का पूरा उसकी चूत पर मल दिया. और कुछ अपने लंड पर भी मल लिया और उसको चिकना कर लिया. फिर मैंने कहा – योगिता, रेडी हो… चोको चुदाई के लिए. तो योगिता ने कहा – जल्दी करो. मैं और वेट नहीं कर सकती. ये सुनते ही, मुझे फिर से जोश कि लहर उठी और मैंने अपना लंड उसकी चूत पर रखा और एक जोरदार धक्का मारा. तब योगिता कि चीख निकल पड़ी. मैंने उसे किस करना चालू किया.. जिससे उसकी आवाज़ निकलनी बंद हो जाए. मैं किस करता हुआ, उसको धक्के मारता रहा और ३ जोरदार शॉट्स के बाद, मेरा लंड उसकी चूत में पूरा समां गया. अब मेरा लंड आसानी से अन्दर बाहर हो रहा था. मैंने और जोश में धक्के मारना चालू कर दिया. कुछ देर बाद, योगिता भी शांत हो गयी और चुदाई का मज़ा लेने लगी.

उसकी सेक्सी आवाज़ निकलने लगी थी. करीब १ मिनट की चुदाई में योगिता कई बार झड़ चुकी थी और मैं २ बार. १ बार कि जोरदार चोको चुदाई के बाद, हम कुछ वक्त ऐसे ही न्यूड बेड पर पड़े रहे, फिर मैं उठा, उसको किस किया और फिर हमने एकसाथ बाथ लिया और मैं उसे बाय बोलकर अपने घर चले आया. उसके बाद हमने काफी दफा चुदाई की.